Chitrakoot waterfalls Chhattisgarh

Chitrakoot waterfalls is considered to be one of the largest waterfalls in India. This river is famous in the country and abroad due to being the Baramsi river and spreading its beauty.

We will tell you through this blog. About this waterfall, when and how to go here. so stay with us

चित्रकूट जलप्रपात छत्तीसगढ़ | Chitrakoot Waterfalls Chhattisgarh image

Chitrakoot Waterfalls Chhattisgarh

दोस्तों, चित्रकूट जलप्रपात ( Chitrakoot Waterfalls) भारत के छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले में इंद्रावती नदी के किनारे मनोरम दृश्य बिखेरती, बहुत ही रमणीय/अविश्मरणीय जलप्रपात हैं। जिसकी चौड़ाई 980 फ़ीट व ऊंचाई 95 फ़ीट, इस ऊंचाई से पानी गिरने से बहुत ही सुन्दर दृश्य निर्मित करती हैं, जो मन को मोह लेती हैं।

इस जलप्रपात की विशेषता यह हैं की रात में यह सफेद चांदनी की भांति चमकता हैं। वर्षा ऋतू के दिनों यह Waterfall रक्त लालिमा हुए चलती हैं, जिसे देखने पर मन में एक अलग ही आनंद की अनुभूति होती हैं। जिसमे आपको ऊंचाई से गिरती हुई विशाल जलराशि सिंह के समान गर्जना पैदा करती हैं, जो एक अगल ही रोमांचकारी हैं।

चित्रकूट जलप्रपात बस्तर छत्तीसगढ़

चित्रकूट जलप्रपात को देखने से घोड़े की नाल समान मुख के कारण इस जलप्रपात को “भारत का नियाग्रा” भी कहते हैं।

जगदलपुर से लगे होने के कारण यह जलप्रपात लोगों के लिए पिकनिक स्पॉट बन चूका हैं। इंद्रावती नदी के उफान को देखने के लिए देश-विदेश के कोने-कोने से प्रत्येक वर्ष लाखों की संख्या में देश-विदेशी पर्यटक घूमने के लिए आते हैं।
अलग-अलग अवसरों पे इस झरने में कम से कम तीन और अधिकतम सात धराये बनती है, जो पर्यटकों का मन मोह लेती हैं।

जलप्रपात के नीचे में कई छोटे-बड़े शिवलिंग स्थापित जिसमे अपने आप ही जलाभिषेक होते रहता हैं, वहां से सुंदर नज़ारे देखने को मिलता हैं। बरसात के दिनों को छोड़कर यहां बस्तर tourism के द्वारा बोटिंग, नाव, पैडलिंग कराई जाती हैं, तीर्थ यात्रियों को स्नान भी कराया जाता है।

यह Chitrakoot Waterfalls हर मौसम में घूमने लायक है। इस जगह को कम से कम एक बार जरूर विजिट करना चाहिए।

चित्रकूट जलप्रपात कब जाये | Best time to visit Chitrakoot Waterfall

दोस्तों वैसे तो आप Chitrakoot waterfall कभी भी जा सकते हैं। किन्तु आप अगर advenger के शौक रखते हैं तो आपको बरसात के समय में जाना चाहिए। 95 फ़ीट की ऊंचाई से उफान लेती हुई, सिंह के समान गर्जना करती नदी को देखना अत्यंत मनमोहक है।
आपको शांतप्रिय वातावरण चाहिए तो आपको अक्टूबर से फ़रवरी के बीच में विजिट करना चाहिए। इस समय आपको बोटिंग, नाव में झरने के पास जाना, उसे नजदीक से देखने का मौका मिलेगा। इस समय झरने का पानी दूध के समान चमकते रहता हैं।

Chitrakote waterfall jagdalpur

चित्रकोट में रुकने की व्यवस्था | Accommodation in Chitrakote Falls

बस्तर का जगदलपुर घनघोर जंगलो वाला इलाका हैं। आप यहाँ दो-तीन दिन का समय बिताने के लिए आये, जिससे की आप आसपास की अन्य स्थलों का आनंद ले पाए तो हम आपको बता देते हैं की यहाँ आपके बजट के अनुसार होटल, रिसॉर्ट और Home Stay मिल सकता हैं। आप चाहे तो प्री बुकिंग भी करा सकते हैं।

छत्तीसगढ़ पर्यटन विभाग के अंतर्गत DANDAMI LUXURY TOURIST RESORT में आप बुकिंग करा सकते हैं। हम नीचे लिंक प्रोवाइड करा रहे हैं। Link – https://www.chhattisgarhtourism.in/book_online/

चित्रकूट जलप्रपात छत्तीसगढ़ कैसे पहुचें | Chitrakoot waterfall resort

यहा पहुँचने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा सभी माध्यमों को सुगम कर दिया गया हैं।

  • हवाई मार्ग – आप यहाँ छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में स्थित स्वामी विवेकानंद हवाई अड्डा रायपुर से पहुंच सकते हैं। यह हवाई अड्डा भारत के सभी मुख्य राज्यों के हवाई अड्ड़ा से जुड़ा हुआ हैं। जगदलपुर, रायपुर से 300Km की दुरी में हैं।
  • रेलवे मार्ग – जगदलपुर रेलवे लाईन से विशाखापट्नम और रायपुर से जुड़ा हुआ हैं। साथ ही यह कई बड़े रेलवे स्टेशन से सीधा जुड़ा हुआ हैं।
  • सड़क मार्ग – नेशनल हाईवे NH30 और राज्य के कई बड़े शहरों के राजमार्गों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ हैं। यहां नियमित रूप से बस सेवाएँ, एक्सप्रेस, व स्लीपर बसें चलती हैं।
    यहां तक की अंतराज्यीय बस स्टैंड जैसे राज्य परिवहन निगम की कई बसें जगदलपुर से हैदराबाद, आंध्रप्रदेश, तेलंगाना से चलती हैं।
चित्रकूट के आसपास जुडी अन्य पर्यटन स्थल

दोस्तों आप Chitrakoot fall घूमने जा रहे हैं तो इसके आसपास बहुत सारे पर्यटन स्थल मौजूद है-

  • तीरथगढ़ जलप्रपात – तीरथगढ़ झरने जगदलपुर से दक्षिण-पश्चिम दिशा में 35 किमी की दुरी में स्थित है। यहां कई झरने 300 फीट की ऊंचाई से गिरते हैं। जिसका नजारा मन को मोहने वाला होता हैं।
  • कुटुमसर गुफा – यह गुफा भारत की सबसे गहरी गुफा है। जगदलपुर से 28Km की दुरी में स्थित हैं।
  • कांगेर धारा – कांगेर घाटी राष्ट्रिय उद्यान से होकर इस धारा को जाते है, जो बहुत ही खूबसूरत हैं। जगदपुर से मात्र 36 किलोमीटर की दुरी में स्थित हैं।
  • चित्रधारा जलप्रपात – यह जलधारा बस्तर की सुंदरता का अद्भुत नमूना हैं। चित्रकोट झरने के रास्ते पर, एक छोटी सी पहाड़ी घाटी के माध्यम से नदी बहती हैं।
  • कांगेर घाटी नेशनल पार्क – जगदलपुर से 27 Km की दुरी में कांगेर घाटी राष्ट्रीय उद्यान है। वन देवी अपने पुरे श्रृंगार में मंत्रमुग्ध कर देने वाली दृश्यों को समेटे हुए स्थित हैं।
FaQ-

चित्रकूट जलप्रपात किस नदी पर स्थित हैं?

चित्रकूट जलप्रपात इंद्रावती नदी पर स्थित हैं। 

चित्रकूट जलप्रपात कहाँ स्थित हैं?

छत्तीसगढ़ राज्य के बस्तर जिले के जगदलपुर से 38 किलोमीटर की दुरी में स्थित हैं। 

चित्रकूट जलप्रपात कब जाना चाहिए?

चित्रकूट जलप्रपात आप कभी भी जा सकते हैं। 

चित्रकूट जलप्रपात को और किस नाम से बुलाया जाता हैं?

भारत की नियाग्रा 

चित्रकूट के आसपास घूमने लायक अन्य जगहें?

तीरथगढ़ जलप्रपात, कुटुमसरगुफा, चित्रधारा जलप्रपात, दंतेश्वरी माता मंदिर, कांगेर घाटी नेशनल पार्क जैसे बहुत से पर्यटन स्थल मौजूद हैं। 

चित्रकूट जलप्रपात की ऊंचाई और चौड़ाई कितनी होगी?

ऊंचाई 95 फीट और चौड़ाई लगभग 980 फीट

Cgtourism.in Opinion – जब मैंने इस झरने के साथ दीदार किया था, तब मुझे मालूम नहीं था की मैं यहाँ बिना किसी से बात किये घंटो बिता सकता हूँ। यह जलप्रपात मुझे पुरे साल भर तक याद रहा। इसकी खूबसूरती को मैं एक बार पुनः देखने जरूर जाऊंगा।

Leave a Comment