Sirpur Mahasamund Chhattisgarh

सिरपुर (Sirpur) छत्तीसगढ़ का ऐतिहासिक नगरी हैं। जो पुरातात्विक और धार्मिक दृष्टि से अत्यंत प्राचीन स्थल हैं। जिसे आदि काल में सीरपुर के नाम से जाना जाता था। यहां सोमवंशी राजाओं ने महानदी के तट के किनारे दक्षिण कोसल की राजधानी सिरपुर नगरी की स्थापना किया था। Sirpur Mahasamund Chhattisgarh | प्राचीन नगरी सिरपुर महासमुंद …

Read more

Patai Mata Temple Patewa Mahasamund

महासमुंद जिला में स्थित पटेवा नामक छोटे से कस्बे से होकर इस छोटे से मंदिर या पठार में पहुंचते है जो पतई नामक ग्राम में में स्थित हैं। Patai Mata Temple. पतई माता मंदिर पटेवा महासमुंद | Patai Mata Temple Patewa Mahasamund दोस्तों पतई माता मंदिर एक छोटे से पहाड़ी पर स्थित हैं जो पतई …

Read more

Khallari Mata Mandir Bhimkhoj Khallari

Khallari Mata Mandir | खल्लारी माता मंदिर भीमखोज खल्लारी खल्लारी माता मंदिर छत्तीसगढ़ के महासमुंद जिले से मात्र 25 किलोमीटर की दुरी में स्थित अद्भुत, रमणीय मंदिर हैं। जहाँ प्रत्येक वर्ष के चैत्र और कुँवार के नवरात्रि में हजारों श्रद्धालु मां खल्लारी के दर्शन के लिए पहुंचते हैं। Khallari Mata Mandir में माँ खल्लारी के …

Read more

Chandi Mata Tample Bagbahara Chhattisgarh

Chandi Mata Tample Bagbahara | चंडी माता मंदिर घुंचापाली चंडी माता मंदिर जिला महासमुंद, विकासखंड बागबाहरा के ग्राम – घुंचपाली में स्थित है। जो जिला मुख्यालय से 40 किमी की दुरी में हैं। माँ आदिशक्ति का यह Chandi Mata Tample तंत्रोक्त सिद्धि के लिए जाना जाता था। जहाँ सिर्फ तांत्रिक और अघोरियों का बस आना-जाना …

Read more

Ratanpur mahamaya mandir

महामाया मंदिर रतनपुर बिलासपुर | Ratanpur Mahamaya Temple Bilaspur दोस्तों, छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले के रतनपुर में स्थित महामाया मंदिर ऐतिहासिक एवं धार्मिक दृष्टि से बहुत ही महत्वपूर्ण हैं। महामाया मंदिर का निर्माण राजा रत्नदेव प्रथम ने 12-13 सदीं में निर्माण कराया था। भारत देश हमेशा से देवी-देवताओं का देश रहा हैं, यहाँ की लोकमान्यता …

Read more